What is Keyword in Hindi: Best Tips to research in 2020

-- विज्ञापन --

कीवर्ड keyword Introduction:

दोस्तों अगर आप ब्लॉग्गिंग करते हैं और आपके एक भी ब्लॉग टॉपिक पर अभी तक ट्रैफिक नहीं आया है।  आप चाहते है की कैसे आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आये तो आप सही जगह पर आये हैं। दोस्तों आपको यह तो पता होगा की किसी भी ब्लॉग को लिखने से पहले आपको एक टॉपिक चाहिए होता है। आपके द्वारा सेलेक्ट किये गए टॉपिक के अंदर जो शब्द होते हैं उसे कीवर्ड कहते है।

-- विज्ञापन --

अगर आप भी कीवर्ड के बारे में पूरी जानकारी लेना चाहते है तो आप सही जगह पर है। आज इस ब्लॉग में हम आपको कीवर्ड के बारे में ही डिटेल में बताएँगे। आपको इतना तो पता होगा की आपके द्वारा जो सवाल पूछा जा रहा है उसमे ही आपका जवाब छुपा है।  इससे पहले आप बहुत सारे ब्लॉग पर कीवर्ड के बारे में जानकारी ले चुके होंगे। आपको पता तो चल ही गया होगा की आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने के लिए और पेज को रैंक करने के लिए आपको अपने ब्लॉग कंटेंट को कीवर्ड स्पेसिफिक रखना  होगा। 

आपको ये तो  जानकारी होगी की आपके साइट या ब्लॉग पर जो भी ट्रैफिक आती है वो आपके 5 से 10 प्रतिशत ब्लॉग कंटेंट से आती है जो कीवर्ड स्पेसिफिक होती है। शायद आपने उन सभी ब्लॉग में अच्छे से कीवर्ड का इस्तेमाल किया होगा।  आप जैसे जैसे इस ब्लॉग को पूरा पढ़ते जाइएगा वैसे वैसे आपको कीवर्ड के बारे में बेस्ट जानकारी मिलती चली जाएगी। तो क्या आप तैयार है कीवर्ड के बारे में पूरी जानकारी पाने के लिए।  आइये आगे बढ़ते हैं। 

Read this also:-What is Alexa Rank in hindi – पुरि जानकरि हिंदी में 2020

What is keyword in hindi ? कीवर्ड क्या होते है। 

दोस्तों गूगल में जब भी किसी चीज या टॉपिक के जानकारी के लिए जो फ्रेज या वर्ड टाइप करके सर्च करते है वो कीवर्ड कहलाता है। ऐसा भी नहीं है की कीवर्ड छोटा मतलब की एक वर्ड का होता है ये हमेशा बहुत बड़ा होता है। ये निर्भर करता है आपके सर्च पर, कि आप गूगल या किसी भी सर्च इंजन में क्या लिखकर सर्च कर रहे हैं। 

जैसे सोचिये की आप अभी मेरे पोस्ट पर कैसे आये।  सबसे पहले आपने गूगल सर्च इंजन खोला होगा। फिर आपने उसमे टाइप किया होगाकीवर्ड क्या हैया “What is keyword in hindi“. तो दोस्तों ये जो आपने फ्रेज टाइप किया गूगल में वही कीवर्ड है। और गूगल उसी कीवर्ड के हिसाब से आपको मेरे वेबसाइट पर लाया है। अब आप थोड़ा थोड़ा समझ गए होंगे की कीवर्ड क्या होता है। 

Read this also:- Domain Authority Kya Hai? – हिंदी में पूरी जानकारी

कीवर्ड की परिभाषा – Keyword definition in hindi

 एक कीवर्ड एक खास शब्द या वाक्य होता जो जो किसी भी कंटेंट का फोकस वर्ड या वाक्य होता है, जो आपके लिखे हुए कंटेंट को डिटेल में वर्णन करता है। कीवर्ड किसी भी कंटेंट का शार्ट फॉर्म होता है। कीवर्ड सर्च इंजन में किये जा रहे सर्च का श्रोत होता है जिसके हिसाब से सर्च इंजन आपके लिए जवाब ये बेस्ट कंटेंट आपके सामने चुनकर लाता है। ब्लॉग्गिंग के कंटेंट का इनफार्मेशन लेने के लिए जो वर्ड या फ्रेज का हम प्रयोग करते हैं उसे कीवर्ड कहते हैं। चलिए इसे एक example से समझते हैं। आपको कीवर्ड प्लानिंग के बारे में जानना है तो आप गूगल पर क्या सर्च करोगे।

  1. कीवर्ड रिसर्च
  2. -- विज्ञापन --

      2. कीवर्ड टूल

How to find keyword in hindi

ऊपर के तीनो सेंटेंस या वर्ड आपके लिए कीवर्ड का काम करेगा। अगर आप seo optimised content लिखना चाहते हैं तो आपको किसी एक फ्रेज या कीवर्ड पर फोकस करके ही अपना कंटेंट लिखना होगा।  जिस कीवर्ड या फ्रेज पर हमलोग टारगेट करके कंटेंट लिखेंगे उसको हमलोग टारगेट कीवर्ड कहते हैं। आपके मन में ये भी question होगा की कंटेंट लिखने में कीवर्ड की क्या जरूरत है। कीवर्ड find करने के लिए बहुत टूल्स मिल जाएंगे, बहुत से टूल्स free है और paid टूल्स है तो इस आर्टिकल को पढ़ते जाइये आपको सब जानकारी अच्छे से मिल जाएगी।

Read this also:- Blogger VS WordPress in Hindi – blogging के लिए कोनसा चुने 2020

Types of keyword in hindi:

अगर आप अपने पोस्ट या आर्टिकल को SEO करना चाहते हैं तो आप अपने पोस्ट में कीवर्ड का सही इस्तेमाल करना बहुत जरूरी है। कीवर्ड के इस्तेमाल करने से पहले आपको ये जानना बहुत जरूरी है की कीवर्ड कितने तरह का होता है और आप किसी भी कीवर्ड को किस तरह से अपने आर्टिकल या पोस्ट में इस्तेमाल कर सकते हैं। तो आइये जानते है “types of keyword in hindi”

  1. Generic keyword 
  2. Short tail keyword 
  3. Long Tail keyword 

1. Generic Keyword

Generally हम जब किसी भी पोस्ट को लिखते हैं तो उस समय कीवर्ड को सही जगह पर प्लेसमेंट करने का ध्यान रखना होता है। जेनेरिक कीवर्ड एक वर्ड के कीवर्ड होते हैं।  हालाँकि इनका सर्च बहुत ज्यादा होता है लेकिन फिर भी इन कीवर्ड पर आप अपने आर्टिकल को जल्दी रैंक नहीं करवा सकते है। क्युकी एक वर्ड से पता ही नहीं चलता की आखिर सर्च करने वाला क्या चाहता है। ऐसे कीवर्ड पर बहुत सारी catagory बन सकती है। ऐसे वर्ड्स पुरे ग्रुप को रिप्रेजेंट करते है। जैसे – smartphone, Relationship, shoes, Cloths, health 

2. Short tail keyword 

शार्ट टेल कीवर्ड वैसे कीवर्ड होते हैं जो जेनेरिक वर्ड में एक या दो और इन्फोर्मटिवे वर्ड जोड़ कर फ्रेज बनता है. इससे कम से कम इतना तो पता चलता है की आपकी ऑडियंस क्या सर्च कर रही है. शार्ट टेल कीवर्ड से थोड़ा मीनिंग निकलता है। आइये इसे कुछ example के साथ समझते हैं – Best Smartphone, marriage relationship, shoes for men, women cloths, heart health

ये सभी कीवर्ड से ये पता चल जाता है की आखिर ऑडियंस क्या चाहता है और किस चीज के बारे में जानकारी लेना चाहता है। अभी तक आपने Generic कीवर्ड और short Tail  कीवर्ड के बारे में डिटेल में समझे और ये भी समझ गए होंगे की generic कीवर्ड के साथ अपने आर्टिकल को रैंक कर पाना कितना कठिन होता है। 

3. Long Tail keyword 

जब 3 या तीन से ज्यादा वर्ड को एक साथ मिलाकर एक sentence बनाया जाता है और उस वाक्य को कीवर्ड बनाकर अपने पोस्ट या आर्टिकल में प्रयोग करके उस वाक्य पर SEO करके आर्टिकल को रैंक कराया जाता है। माना जाता है की Long Tail keyword को रैंक करना काफी आसान होता है।  जिस जेनेरिक कीवर्ड के लिए ज्यादा कम्पटीशन होता है उसको लोंगटैल कीवर्ड बनाकर आप अपने आर्टिकल को रैंक करवा सकते है। आप लोंगटैल कीवर्ड के मदद से अपने टार्गेटेड ऑडियंस तक आसानी से अपने आर्टिकल को पंहुचा सकते हैं। आप अपने कीवर्ड को जितना लम्बा रखेंगे आपका आर्टिकल या पोस्ट उतना ज्यादा जल्दी रैंक करेगा। 

  1. जैसे – Best Smartphone under 10000 in India 
  2. Marriage Relationship Tips for husband 
  3. Best shoes for men under 500 
  4. Cloths for Marriage Function 
  5. How to improve heart health naturally 

LSI keyword: 

LSI कीवर्ड क्या होता है, आइये इसके बारे में भी थोड़ी जानकारी आपको देता हु।  LSI का फुलफॉर्म latent semantic indexing होता है। google आपके पोस्ट को रैंक करने से पहले गूगल बोट्स के द्वारा क्रॉल करते हैं। वे बोट्स को क्रॉल करके ये पता करते हैं की आपने जो कंटेंट में लिखा है वो आपके फोकस्ड कीवर्ड से मैच करता है की नहीं।  कंटेंट और कीवर्ड के बिच रिलेशनशिप मैच करके ही आपके कंटेंट को रैंक करता है। कीवर्ड या keyphrase से रिलेटेड वर्ड या सेंटेंस को LSI कीवर्ड कहते हैं। अगर आप एक ही कीवर्ड को कई बार प्रयोग करते है तो उसे भी गूगल गलत मानता है। आर्टिकल लिखते टाइम अगर आप LSI कीवर्ड को कंटेंट के टाइटल, हैडिंग, और subheading  में भी प्रयोग करते हैं तो यह आपके कंटेंट के लिए अच्छा होता है और गूगल का क्रॉलर आपके आर्टिकल को गलत नहीं मानेगा। 

Why is Keyword Research important for SEO:

SEO का मतलब होता है Search Engine Optimisation. SEO आपके लिखे हुए आर्टिकल को SERP (Search Engine Result Page) में रैंकिंग सेट करता है। आपका आर्टिकल कितना पोजीशन पर गूगल में रैंक हो रहा है वो SEO ही तय करता है। Onpage SEO कीवर्ड का उतना ही ज्यादा जरूरत है जितना शरीर में हार्ट का है। सबसे पहले आप एक Target कीवर्ड बनाते है। उस टारगेट कीवर्ड के हिसाब से ही आपके पुरे आर्टिकल का सर्च इंजन के लिए optimisation किया जाता है। 

-- विज्ञापन --

अगर आप आर्टिकल को Onpage Optimisation करके लिखते है तो आपका आर्टिकल जल्दी से गूगल में रैंक कर जायेगा और टॉप पोजीशन पर आएगा।  इससे आपके साइट में ट्रैफिक ज्यादा आएगा। साइट का रैंकिंग भी बढ़ने लगेगा। लेकिन अगर गलती से भी आपने अपने आर्टिकल या पेज को गलत तरीके से optimise किया तो आपके साइट पर ट्रैफिक आकर भी भाग जायेगा और आपके पेज का बाउंस रेट बढ़ जायेगा. जिससे आपके पेज की रैंकिंग और पोजीशन भी घट जाएगी। इसके लिए आपको SEO फ्रेंडली आर्टिकल लिखना बहुत जरूरी है। 

आर्टिकल लिखते समय आप अपने कीवर्ड को मेटा डिस्क्रिप्शन में अच्छे से प्लेसिंग करना होता है।  वैसे तो अब गूगल खुद ही आपके आर्टिकल में लिखा हुआ कीवर्ड को डिटेक्ट कर लेता है।

मान लीजिये आप इस पोस्ट को अच्छे से कीवर्ड के साथ onpage SEO कर रहे है. और अगर आपने  “What is keyword and its importance in ranking” के बदले “SEO कैसे करे” को Onpage SEO कर दिया, और अगर ट्रैफिक आ भी जाता है तो उसको SEO से सम्बंधित कंटेंट नहीं मिलने के कारन वो वापस चला जायेगा। ट्रैफिक के वापस चले जाने से साइट का बाउंस रेट बढ़ जायेगा। बाउंस रेट बढ़ने से साइट का गूगल रैंकिंग घट जायेगा और आपके ब्लॉग का गूगल में पोजीशन पीछे चला जायेगा। 

Also Read: On Page SEO Kaise Kare? पुरि जानकरि हिंदी में – 2020

How to do keyword Research:

कीवर्ड रिसर्च SEO करने के लिए बहुत जरूरी है। इसकी मदद से आप अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ा सकते हैं। आप अगर ब्लॉगर हैं तो आप जरूर अपनी साइट पर आर्गेनिक ट्रैफिक बढ़ाना चाहते होंगे। लेकिन बिना कीवर्ड रिसर्च किये आपके ब्लॉग पोस्ट पर ट्रैफिक नहीं आएगा। तो आइये मैं आपको बताता हु की कीवर्ड रिसर्च कैसे किया जाता है, ताकि SERPs में आपका ब्लॉग अच्छी पोजीशन पर रैंक हो सके। 

keyword Research में हमें ये जानकारी चाहिए होता है की कौन से कीवर्ड को लोग अधिक सर्च कर रहे हैं। जो कीवर्ड लोग सर्च कर रहे है, उसका सर्च वॉल्यूम कितना है ? उसपर कितने लोग काम कर रहे हैं, मतलब कम्पटीशन कितना है। कम्पटीशन से पता चलता है की आप अगर उस कीवर्ड पर काम करोगे तो आपका पोस्ट या आर्टिकल कितना जल्दी या देरी से गूगल SERPs मेँ  रैंक करेगा। 

अगर आप अपने पोस्ट पर ट्रैफिक चाहते हो तो आपको कीवर्ड रिसर्च करना बहुत जरूरी है, क्युकी आजकल हरेक generic कीवर्ड पर बहुत अधिक competition है। मान लीजिये आप कोई आर्टिकल लिखना चाहते है “Best Mens shoes under 500”. सबसे पहले आप इस कीवर्ड को गूगल में सर्च करें।  आपको पता चलेगा की उस कीवर्ड के लिए गूगल पर 19,60,00,000 सर्च रिजल्ट आये।  मतलब की बहुत सारे लोग इस कीवर्ड पर काम कर रहे हैं। ऐसे में इस कीवर्ड पर काम करना आपके लिए काफी कठिन होगा।

keyword-research-kaise-kare
-- विज्ञापन --

इसलिए अगर आप कंटेंट राइटिंग से पहले कीवर्ड रिसर्च नहीं कीजियेगा तो गूगल आपके कंटेंट को रैंक नहीं करेगा। आपने कितनी ही अच्छी तरह से कंटेंट क्यों नहीं लिखी हो आपका कंटेंट रैंक नहीं होगा। कीवर्ड रिसर्च करते समय आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना पड़ेगा। जैसे – Search Volume, Long Tail keyword, competition, Related keyword . 

3 . How to generate a keyword idea 

वैसे तो आप वेबसाइट पर सर्च कीजियेगा तो आपको बहुत सारे कीवर्ड रिसर्च टूल मिल जायेंगे, जो आपको कीवर्ड रिसर्च करने में काफी सहायक होगा। 

ब्रैनस्टोर्मिंग ऑफ़ कीवर्ड आइडियाज:  कीवर्ड आइडियाज के लिए आप काफी जगह से सिख ले सकते है जैसे:- 

  1. अपने आसपास देखिये : जो भी चीज आप अपने आसपास देखते हैं वो सब आपके लिए रुट कीवर्ड आइडियाज के रूप में काम कर सकता है।  
  2. टेलीविज़न देखिये : आप टेलीविज़न देखते समय जो भी प्रोडक्ट देखते है चाहे वो शो के टाइम में हो या फिर advertisement के समय, सबको नोट करे और उसपर आप कीवर्ड के रूप में काम कर सकते है।  
  3. खरीदारी करते समय : चाहे आप ऑनलाइन खरीदारी कर रहे हैं या ऑफलाइन, आपको जो भी प्रोडक्ट देखते हैं वेबसाइट पर या किसी मॉल में जैसे – shoes, basketball, refridgerator, Washing machine या Camera . ये सभी प्रोडक्ट आपके लिए कीवर्ड का काम कर सकता है। इस पर आप लोंगटैल कीवर्ड बनाकर अच्छे से आर्टिकल लिख सकते हैं। 
  4. गूगल ट्रेंड्स – अगर आपको कुछ भी समझ नहीं आता है तो आप गूगल ट्रेंड्स को देखिये और पता कीजिये की लोग फ़िलहाल क्या सर्च कर रहे हैं। 
  5. अमेज़न प्रोडक्ट्स, catagories – आप अमेज़न प्रोडक्ट्स एंड catagories  का भी प्रयोग करके बहुत सारे कीवर्ड आईडिया ले सकते हैं। आप बेस्टसेलिंग आइटम्स के ऊपर भी कीवर्ड बनाकर काम कर सकते हैं। 
  6. एफिलिएट नेटवर्क्स – affiliate networks जैसे Clickbank, commission junction, never blue ads, linkshare जैसे और भी कई नेटवर्क्स में जाकर आप कीवर्ड आइडियाज ले सकते हैं। 
  7. wikipedia: विकिपीडिया पर आप जो आर्टिकल पढ़ते हैं उससे भी आप अच्छे अच्छे कीवर्ड्स के आइडियाज ले सकते हैं। विकिपीडिया के टेबल ऑफ़ कंटेंट से भी आप अच्छे से कीवर्ड आइडियाज ले सकते हैं। 
  8. Youtube – आप यूट्यूब वीडियोस तो जरूर देखते होंगे। आप यूट्यूब पर भी काफी वीडियोस के अंदर प्रयोग किये गए कीवर्ड से आइडियाज ले सकते हैं। 
  9. गूगल suggestion: आप गूगल पर कुछ भी टाइप करते है तो गूगल अपने आप कुछ लोंगटैल कीवर्ड suggest करता है , इसका मतलब है की लोग उस कीवर्ड पर ज्यादा सर्च कर रहे है।  

Best keyword Research tools in hindi:  

कीवर्ड रिसर्च करने के लिए मार्किट में बहुत सारे टूल आ गए है जो आपको रिसर्च करने में मदद करेगा। इनमे से जो कुछ सबसे अच्छे है वो मैं आपको निचे बता रहा हूँ : 

best keyword reserch tools
  1. Google keyword Planner: यह सबसे अच्छा और गूगल के द्वारा बनाया हुआ फ्री में दिया गया टूल है।  इसका प्रयोग करके आप किसी भी प्रकार के कीवर्ड के डिटेल easily सर्च कर सकते हैं। इसमें आप शार्ट टेल के साथ साथ लॉन्ग टेल कीवर्ड पर भी काम कर सकते हैं। गूगल कीवर्ड प्लानर का प्रयोग करके आप कीवर्ड के हार्डनेस यानि कम्पटीशन, मंथली searches, CPC और भी बहुत सारी चीजों का पता लगा सकते हैं। 
  2. Ubersuggest: यह नीलपटेल ने बहुत ही बेहतरीन तरीके से रिसर्च करके डेवेलोप किया है। ये बहुत ही पॉपुलर कीवर्ड suggestion tool है। इसका प्रयोग करके आप अच्छे से लॉन्ग टेल कीवर्ड्स रिसर्च कर सकते हैं। इसका उपयोग करना काफी आसान है।  
  3. SEMrush कीवर्ड रिसर्च टूल – ये मेरे लिए बेस्ट टूल्स में से एक है। यह टूल मदद से आप कीवर्ड रिसर्च करने के साथ साथ अपने कॉम्पिटिटर पर भी नजर रख सकते हैं। हालाँकि यह काफी महंगा है, और लिमिटेड वर्शन के साथ आता है। इसका प्रीमियम वर्शन $99. 95  प्रति महीना से शुरू होता है। 
  4. Ahrefs कीवर्ड रिसर्च टूल : ये कीवर्ड रिसर्च टूल भी काफी अच्छा है, SEMrush की तरह ये भी आपके वेबसाइट के लिए अच्छे से अच्छे कीवर्ड खोजने में मदद करता है और कॉम्पिटिटर पर भी नजर रखता है।

How to choose a perfect keyword : 

सबसे पहले तो आप ये सोचिये की ट्रैफिक बढ़ने के साथ साथ सही कस्टमर को आकर्षित करना सबसे बड़ी चुनौती है। परफेक्ट कीवर्ड को सेलेक्ट करके अपने target मार्किट के साथ जुड़ना सबसे बड़ी चुनौती है। लेकिन अगर आपको परफेक्ट कीवर्ड मिल गया तो इससे अच्छा और कोई बात नहीं।  तो परफेक्ट कीवर्ड कैसे सर्च करे आइये जानते हैं। 

-- विज्ञापन --
  1. कस्टमर की तरह सोचे- अपने टारगेट ऑडियंस को पहचाने और अपने आप को उनके जगह पर रख कर सोचे की आप क्या चाहते है। आप किसी पर्टिकुलर चीज के बारे में जानना चाहते है तो आप गूगल सर्च में क्या लिखियेगा। इसके  लिए आप अपने फ्रेंड्स एंड फॅमिली से भी आइडियाज ले सकते हैं।    
  2. प्रतियोगिता का आकलन करे: कीवर्ड सेलेक्ट करते समय आप उस कीवर्ड का कितना हार्डनेस है उसका आकलन कर ले।  कितने लोग उस कीवर्ड पर काम कर रहे है, ये देख ले। इससे ये पता चल जायेगा की अगर आप उस कीवर्ड पर काम कीजियेगा तो उसको रैंक होने में कितना टाइम लगेगा ।
  3. लॉन्ग टेल कीवर्ड को समझे : जैसा की मैंने आपको पहले ही समझाया है की शार्ट टेल कीवर्ड के जगह अगर आप लॉन्ग टेल कीवर्ड का प्रयोग कीजियेगा तो आपका आर्टिकल जल्दी रैंक करेगा। लॉन्ग टेल कीवर्ड में प्रतियोगिता काफी काम होती है। इसलिए हमेशा लॉन्ग टेल कीवर्ड का ही इस्तेमाल कीजिये।  
  4. कीवर्ड रिसर्च टूल का प्रयोग करे : आप खुद से कितना भी रिसर्च कीजियेगा, फिर भी अगर आप कीवर्ड रिसर्च टूल का प्रयोग करते हैं तो आपको सारी जानकारी एक ही जगह मिल जाएगी और आपका कॉन्फिडेंस भी हाई रहेगा।  
  5. रिजल्ट को analyse करें : कीवर्ड सेलेक्ट करने के बाद उसको मॉनिटर करते रहे और analyse करना न भूले। 

Conclusion :

तो दोस्तों उम्मीद करता हूँ की आज “कीवर्ड क्या है और ये आपके लिए क्यों जरूरी है” कीवर्ड प्लानिंग और इसके विभिन्न पहलुओं पर मैंने जो महत्वपूर्ण जानकारी आपको बताया है वो आपको पसंद आएगा। इस लेख में मैंने आपको जो भी बताया है वो ब्लॉग पोस्ट लिखने  के लिए काफी महत्वपूर्ण है। इसको आपलोग जरूर फॉलो कीजियेगा। चाहे वो हमारे ब्लॉग के किसी भी सेक्शन से रिलेटेड टॉपिक हो मैंने आपके लिए काफी रिसर्च और मेहनत के साथ आपके लिए लिखा हूँ। आप जरूर फॉलो करे हमें और हमारे ब्लॉग को अगर ऐसे और भी जानकारी आपको चाहिए तो।  

अगर इससे सम्बंधित कोई सवाल आपके मन में हो और मैं कुछ पॉइंट्स इसमें नहीं जोड़ा हूँ तो आप जरूर मुझे कमेंट कर सकते हैं। अगर आप कुछ सुझाव देना चाहते है तो भी आपका स्वागत है। आप हमारे ब्लॉग को अगर अभी तक सब्सक्राइब नहीं किये है तो पल्स हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब कर ले। मैं हमेशा कोशिश रखता हूँ की आपको बेस्ट इनफार्मेशन लेकर दू। 

धन्यवाद्। 

-- विज्ञापन --
Share on:

Leave a Comment