Permalink Kya Hai? What is Permalink in Hindi

-- विज्ञापन --

क्या आपके पास भी आपकी खुद की वेबसाइट या ब्लॉग है और आप की पोस्ट रैंक नही हो रही है?  तो एक बात जान लीजिये की Permalink बोहोत ही बड़ा फैक्टर है रैंकिंग का। तो आपको ये पता होना ही चाहिए की आखिर Permalink Kya Hai.

-- विज्ञापन --

तो दोस्तों एक बार फिर से स्वागत है आपका MyTechnicalHindi.com वेबसाइट में। तो आज में आपको पूरी डिटेल दूंगा की आखिर Permalink क्या है और आप इसकी मदद से कैसे अपनी पोस्ट को रैंक करवा सकते हो।

तो अगर आपने On-Page SEO के बारे में सूना होगा तो आपने Permalink भी सूना ही होगा। Permalink on-page seo का एक बोहोत ही बड़ा फैक्टर है तो आपको इसे बिलकुल भी ignore नही करना है।

इसीलिए आपका इसके बारे में जानना बोहोत ही ज्यादा जरुरी है। तो आज के इस आर्टिकल का कुछ भी पार्ट स्किप मत करियेगा। तो चलिए बढ़ते है आज के टॉपिक की तरफ।

Permalink क्या है?

तो सबसे पहले जान लेते है की Permalink क्या है। किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग के आर्टिकल की जो लिंक यानी की URL (Uniform Resource Locator) उसे ही पर्मालिंक कहते है।

आसन शब्दों में किसी भी आर्टिकल की लिंक को ही पर्मालिंक कहते है। तो ये तो क्लियर है लेकिन आप Slug में confuse मत होना। Slug भी permalink ही होता है।

तो चलिए अब एक example से समझ लेते है ताकि आपको अछे से समझ आजाऐ।

www.mytechnicalhindi.com – Site URL

www.mytechnicalhindi.com/permalink-kya-hai – Permalink

तो ये इस आर्टिकल की permalink है। जैसे की आप सिम्पली देख सकते हो की permalink में आपकी साईट का main URL होता है और आपकी उस आर्टिकल के Keywords जो भी आप रखना चाहो। ये भी पढ़ेWhat is Keyword in Hindi

तो basically, ये ईसीलिये बनाया जाता है ताकि आपके सभी आर्टिकल को एक यूनिक एड्रेस मिल जाए और कोई भी एक particular आर्टिकल पर आसानी से विजिट कर सके।

और जाहिर सी बात है जब सभी आर्टिकल के एड्रेस यूनिक होगे तभी तो वो रैंक करेंग्गे और कोई उनपे विजिट कर पायेगा। लेकिन अब आप सोच रहे होगे की इसे बनाना तो बोहोत आसन है लेकिन नही।

बोहोत से bloggers यही गलती कर देते है की वो permalink पर ध्यान नही देते लेकिन आपको एसा नही करना है। चलिए permalink के बारे में और detail जान लेते आखिर ये Permalink SEO में कितना इम्पोर्टेन्ट है और आखिर क्यों।

Permalink SEO के लिए क्यों जरुरी है?

तो permalink create करने से पहले आपको इसकी importance भी पता होनी चाहिए। जैसे की आपको पता लग गया की आखिर Permalink क्या होता है। तो अब ये जो Permalink होता है इससे आपके आर्टिकल को यूनिक एड्रेस मिल जाता है।

और ये SEO में भी बोहोत ज्यादा matter करता है। जब भी कोई यूजर google या किसी भी सर्च इंजन में आपके आर्टिकल से रिलेटेड कीवर्ड सर्च करेगा तो अगर आपके permalink में वो keywords है तो चांसेस बढ़ जाते है की आपकी साईट भी रैंक करेगी।

या इससे google और साथ ही साथ यूजर को भी पता लग जाता है की हां ये आर्टिकल मेरी query से रिलेटेड है इसीलिए permalink जरुरी होती है।

अब ऐसे तो आर्टिकल से रिलेटेड कई सारे keyword होते है तो सवाल आता है की केसे permalink बनाये। यही इस आर्टिकल में आपको में आगे बताऊंगा और कोंसे structure का आपको इस्तेमाल करना है और कोन-से का नही ये भी बताऊंगा।

लेकिन permalink के अलग अलग structure होते है लेकिन उसमे से सिर्फ एक ही एसा structure है जो की SEO फ्रेंडली होता है बाकी चीज़े तो में आपको बताऊंगा ही।

-- विज्ञापन --

Permalink Structure Kya hai

तो जैसे की मेने आपको बताया की permalink भी अलग अलग structure की होती है लेकिन आपको कोनसा structure का इस्तेमाल करना है ये में आपको बता देता हु।

#1. Date Structure

तो आपने कई वेबसाइट की permalink देखि होगी खासकर blogger.com के जो ब्लॉग होते है। उनके आर्टिकल की permalink में date भी होती है।

Example

www.xyz.com/2020/04/permalink-kya-hai

तो इस तरह की permalink में आप देख सकते हो की इसमें year और month भी आ रहा है। अगर आपकी साईट ब्लॉगर पर है तो आप इसका इस्तेमाल कर सकते हो लेकिन आप WordPress का इस्तेमाल कर रहे हो तो इस तरह के structure का इस्तेमाल मत करिए।

Blogging kaise karte hai

#2. Numeric Structure

इस तरह का structure भी SEO फ्रेंडली नही होता। इसमें आपके permalink को Archive या पोस्ट के number के हिसाब से सेट किया जाता है जैसे की आपको पता ही होगा की साईट में Archives होते है। तो permalink उन्ही के हिसाब से आ जाती है।

Example-

www.xyz.com/archive/41

कुछ इस तरह से होती है Numeric structure लेकिन आपको इसका इस्तेमाल भी नही करना है।

#3. Page Structure

ये structure डिफ़ॉल्ट रहता है अगर आप wordpress का इस्तेमाल कर रहे हो तो। लेकिन ये structure भी seo फ्रेंडली नही होता। तो आपको इसे डिफ़ॉल्ट से हटाना पड़ता है। तो इसमें आपके आर्टिकल का permalink पेज के हिसाब से काउंट होके बनता है।

Example –

-- विज्ञापन --

www.xyz.com/?p=341

आप खुद ही देख सकते हो की इस तरह का structure बिलकुल भी SEO फ्रेंडली नही है क्युकी इसमें तो आपका कीवर्ड भी नही आ रहा है।

#4. Custom Structure

तो फाइनली इस तरह का Permalink Structure ही seo फ्रेंडली होता है क्युकी इसमें सिर्फ आपका main डोमेन और जो भी कीवर्ड आप रखना चाहते हो वो रखना होता है।

Example-

www.xyz.com/permalink-kya-hai

तो आपको इसी तरह की permalink का इस्तेमाल करना है क्युकी इसमें आप देव्ख सकते हो की कीवर्ड भी आ रहा है और एडिशनल कुछ चीज़े भी नही है जो की फ़िज़ूल होती है।

SEO Friendly Permalink कैसे बनाये?

तो अब आपको पता चल गया की आखिर permalink क्या है और आपको किस तरह के structure का इस्तेमाल करना। तो अब ये जानना भी जरुरी है की एक SEO फ्रेंडली permalink कैसी होती है और आपको कैसे बनानी है।

कुछ पॉइंट्स है जो की आपको ध्यान रखने है SEO फ्रेंडली permalink बनाते वक्त।

 1. Focus Keywords –

आर्टिकल लिखने से पहले आपने जरुर keyword research तो किया ही होगा। जिसमे आपने focus keyword और sub-keyword ढूंढे होगे।

तो जो भी आपका main टॉपिक है और जिस पर भी आप चाहते हो की उस कीवर्ड पर आपका आर्टिकल रैंक करे आपको व्ही keyword पर्मालिंक में रखना है।

मानलो को आपने आर्टिकल लिखा और उसका focus keyword है “Permalink kya hai” तो आपको पर्मालिंक में भी यही keyword रखना है। जैसे-

www.mytechnicalhindi.com/permalink-kya-hai

-- विज्ञापन --

2. URL को Short रखे –

आपने देखा होगा की बोहोत सी साईट के आर्टिकल की पर्मालिंक बोहोत ही बड़ी बड़ी होती है लेकिन आपको एसा नही करनी short url ही बेस्ट होती है।

और short url भी आपको रखना है जिसमे आपका focus कीवर्ड भी आजाये और url भी short रहे। कोई भी सर्च इंजन short url ही प्रेफर करता है।

तो आपको ज्यादा कोशिश यही रखनी की permalink short ही रहे। बड़ी पर्मालिंक सर्च results में आधी ही शो होती है इस वजह से user को भी दिक्कत होती है content पहचानने में। इसीलिए short पर्मालिंक जो की आपके आर्टिकल के टॉपिक को डिस्क्राइब करदे ऐसा ही पर्मालिंक आपको बनानी है।

3. Stop Words का इस्तेमाल न करे

कोई भी सर्च इंजन चाहे वो google हो या फिर Bing, पर्मालिंक में stop words को recommend नही करते। लेकिन एसा भी नही है की stop words उसे करने वाले पर्मालिंक के आर्टिकल रैंक नही होते।

आपने बोहोत से आर्टिकल देखे होंगे जो की google के फर्स्ट पेज पर रैंक कर रहे होते है और उनकी पर्मालिंक में stop words होते है। फिर भी जितना हो सके आपको stop words का इस्तेमाल नही करना है पर्मालिंक में।

Stop Words जैसे a, and, but, on, etc. आप google पर सर्च करके stop words की पुरि डिटेल ले सकते हो। जितना हो सके उतना in words को इगनोरे करना है पर्मालिंक में। तभी आपका आर्टिकल या पर्मालिंक seo फ्रेंडली होगा।

Blogger blog पर permalink कैसे बनाये –

तो यहा तक आपको Permalink के बारे में सब कुछ पता चल ही गया होगा की आखिर permalink क्या है ये क्यों जरुरी है रैंकिंग के लिए और जो भी कुछ मेने आपको बताया।

तो अब जो मेरे भाई Blogger का इस्तेमाल करते है। यानी की उनकी वेबसाइट या ब्लॉग ब्लॉगर.com पर hosted है तो वो custom permalink कैसे बनायेंगे। Blog क्या है?

बोहोत ही easy process है बस आपको मेरे दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करना होगा.

  • सबसे पहले आपको Blogger.com पर sign in करना होगा जिस भी gmail id पे आपका ब्लॉग बना हुआ है उससे।
  • -- विज्ञापन --

 

blogger-me-permalink-kaise-bnaye
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
-- विज्ञापन --
  • उसके बाद आपको उस आर्टिकल को edit करना है जिस पर आप custom permalink बनाना चाहते हो। लेकिन एक बात ध्यान रखिये जिस आर्टिकल को आप publish कर चुके हो उसका पर्मालिंक आप बदल नही सकते। जो आर्टिकल draft में है या फिर जो आप लिख ही रहे हो उस आर्टिकल का permalink बदल सकता है।
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
  • उसके बाद राईट हैण्ड साइड में जो आपको Post Settings के आप्शन मिलते है वहा से आपको permalink पर क्लिक करना है।
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
  • Permalink पे क्लिक करने के बाद आप देखोगे की वो default Automatic Permalink पर सेट होगा लेकिन हमे custom permalink बनाना है तो आपको Custom Permalink के आप्शन को टिक करना है।
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
blogger-me-permalink-kaise-bnaye
  • उसके बाद आप custom permalink बना सकते हो जो भी आपका कीवर्ड है आप वो पर्मालिंक बना सकते हो लेकिन एक बात का आपको ध्यान रखना है की आपको हर एक वर्ड के बाद “-” इस sign का इस्तेमाल करना है अगर आप इसका इस्तेमाल नही करोगे तो पर्मालिंक valid नही होगा।
  • उसके बाद सिंपल done के आप्शन पे क्लिक कीजिये और आपका custom पर्मालिंक बन जाएगा।

तो बड़ी ही आसानी से आप blogger पर hosted वेबसाइट पर custom url या permalink लिख सकते हो।

-- विज्ञापन --

लेकिन जैसा की मेने आपको पहले भी बताया की blogger.com पर होस्टेड वेबसाइट या ब्लॉग के आर्टिकल के जो permalink होते है उनमे date structure ही रहता है। आप उसे बदल नही सकते।

हालाकि कुछ code है जिनकी मदत से date structure हट जाता है लेकिन आपको उन का इस्तेमाल भी नही करना है। blogger blog पर जैसा structure default है वो ही सही है।

WordPress Blog पर Custom Permalink कैसे बनाये –

Blogger Blog पर custom पर्मालिंक बनाना तो आपने सिख ही लिया जो की बोहोत आसन भी है लेकिन WordPress में मेथड थोड़ा अलग है।

जैसे की आपने ब्लॉगर में देखा की डायरेक्ट आर्टिकल पे जाके ही आपने डायरेक्ट custom पेर्मलिंक्क बना दी लेकिन WordPress में एसा नही है।

अगर वेबसाइट wordpress पर है तो Web hosting kya hai जरुर पढ़े |

आप भी ऐसे मेरे दिए हुए स्टेप्स को फॉलो करिए फिर आप खुद ही समझ जाओगे की कैसे क्या करना है।

  • सबसे पहले आपको अपने WordPress पैनल पर login करके डैशबोर्ड आना है।
WordPress-me-permalink-kaise-bnaye
WordPress-me-permalink-kaise-bnaye
  • उसके बाद आपको Settings के आप्शन पर कर्सर ले जा के Permalinks के आप्शन पर क्लिक करना है।
WordPress-me-permalink-kaise-bnaye
WordPress-me-permalink-kaise-bnaye
  • फिर आप देख सकते हो की आपको कई सारे Permalink के structure सेलेक्ट करने के आप्शन मिल जाते है।
  • Default वो Plain पर्मालिंक structure पर सेट होगा आपको उसे change करके पोस्ट नाम पर क्लिक कर देना है और फिर save के आप्शन पर क्लिक करना है।
WordPress-me-permalink-kaise-bnaye
WordPress-me-permalink-kaise-bnaye
  • फिर आपको पोस्ट के editor पर जाना है उस पोस्ट के editor पर जो की draft में हो या फिर जिसको आप लिख ही रहे हो क्युकी published पोस्ट की पर्मालिंक change नही होती।
  • तो editor पे आने के बाद आपको Permalink का आप्शन मिलेगा आपको जस्ट उसपे क्लिक करके अपने हिसाब से कीवर्ड से मिलता जुलता पर्मालिंक बना कर save कर देना है।
wordpress-par-permalink-kaise-bnaye
wordpress-par-permalink-kaise-bnaye

बस फिर आप अपने हर पोस्ट में पर्मालिंक को change कर पाओगे वो भी seo फ्रेंडली structure के साथ। तो अब आपको सारी चीज़े समझ में आ ही गयी होगी।

Conclusion

तो दोस्तों, मैं उम्मीद करता हु की इस आर्टिकल से आपको बोहोत कुछ नया सिखने को मिला होगा और जो भी कुछ मेने आपको बताया जैसे Permalink क्या है और ये क्यों जरुरी है और आप इसे कैसे बना सकते हो ये सभी चीज़े आप समझ ही गये होंगे।

-- विज्ञापन --

तो में आपको एक बार फिर से बता देता हु की ये on-Page SEO का एक बोहोत ही बड़ा factor है आपको इसे बिलकुल भी इगनोरे नही करना और जैसा मेने बताया है व्ही आपको फॉलो करना है तब आपकी पोस्ट या आर्टिकल जरुर रैंक करेगा। और सिर्फ permalink ही नही और भी on-page SEO करने से तभी आर्टिकल रैंक करता है।

तो दोस्तों आज के लिए बस इतना ही आप जुड़े रहिये हमारे इस ब्लॉग MyTechnicalHindi के साथ फिर मिलेंगे हम इस ब्लॉग के अगले आर्टिकल में

जय हिन्द, जय भारत।

-- विज्ञापन --
Share on:

6 thoughts on “Permalink Kya Hai? What is Permalink in Hindi”

  1. भईया जी आप बहुत अच्छी जानकारी देते है। मुझे भी आपकी तरह एक ब्लॉगर बनना है। आप अपने ब्लॉग पर सभी जानकारी बहुत विस्तार से समझाते है। अगर आपको याद होगा तो मैंने पहले भी आपकी पोस्ट में कमेंट की है।

    Reply

Leave a Comment