Television का आविष्कार किसने किया | Interesting Facts related to Television

-- विज्ञापन --

कई चीजें हैं जो अक्सर लोग छुट्टियों के आने पर करते हैं। कुछ लोग सैर करने का विकल्प चुन सकते हैं, कुछ घर पर रहने को निर्णय लेते हैं। वे परिवार के साथ आराम करते हैं और टीवी देखना पसंद करते हैं। समय-समय पर, यह इलेक्ट्रॉनिक उपकरण वास्तव में सबसे सुखद मनोरंजन मीडिया में से एक बन गया है। इसका वजह यह है कि फिल्मों से समाचारों तक कई कार्यक्रम हमें टीवी पर देखने को मिलते हैं। लेकिन क्या आपने सोचा है कि टेलीविजन का आविष्कार किसने किया था? (Who Invented Television in Hindi).

-- विज्ञापन --

आज जो हम टेलीविजन के आविष्कार का इतना लाभ उठा रहे है, इसलिए हमें टेलीविजन के आविष्कारक को धन्यवाद देना होगा। आज इस पोस्ट में बताऊंगा की Television Ka avishkar kisne kiya tha. और टेलीविज़न के आविष्कार की कहानी के बारे में चर्चा करुंगा। टीवी की खोज होने में सिर्फ़ किसी एक वैज्ञानिक का हाथ नहीं है बल्कि इसके लिए कई वैज्ञानिकों का योगदान है। तो चलिए शुरू करते हैं।

टेलीविज़न का अविष्कार किसने किया (TV ka avishkar kisne kiya)

टेलीविजन का सर्वप्रथम अविष्कार जॉन लॉजी बेयर्ड (J.L. Baird) द्वारा 1925 में किया गया। J.L. Bared ने अपने अविष्कार का नाम The Television रखा था। जनवरी 1925 में बेयर्ड ने लंदन में रॉयल इंस्टीट्यूट में सार्वजनिक रूप से टेलीविजन के अपने आविष्कार का प्रदर्शन किया। उन्होंने टीवी पर स्टिकी नाम की कठपुतली की छवि प्रकाशित की थी। यह सबसे पहला टेलीविजन शो है। 1929 में, बीबीसी या ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन चैनल ने बेयर्ड के उपकरण का उपयोग करके अपने टेलीविज़न प्रसारण का प्रीमियर किया। जॉन लोगी बेयर्ड स्कॉटलैंड के एक इंजीनियर थे जिनका जन्म 13 अगस्त, 1888 को हुआ था। वह पहले व्यक्ति थे जिन्होंने टेलीविजन पर चलती Images का प्रसारण करने में सक्षम थे। बेयर्ड ने लार्चफील्ड अकादमी, रॉयल टेक्निकल कॉलेज और ग्लासगो विश्वविद्यालय में अध्ययन किया।

सन 1925 में जॉन द्वारा पहली बार मैकेनिकल टेलीविज़न का आविष्कार करने के बाद, 1927 में, संयुक्त राज्य अमेरिका के यूटा के एक वैज्ञानिक फिलो टी. फ़ार्नस्वर्थ (Philo T. Farnsworth) ने 21 वर्ष की आयु में पहला आधुनिक इलेक्ट्रॉनिक टेलीविजन विकसित किया। फिलो टेलर फ़ार्नस्वर्थ एक अमेरिकी आविष्कारक थे, जिन्हें पहले सही इलेक्ट्रॉनिक टेलीविज़न सिस्टम का आविष्कार करने के लिए याद किया जाता है, जिसमें पहले कार्यशील इलेक्ट्रॉनिक इमेज रिसेप्शन डिवाइस (वीडियो कैमरा ट्यूब) शामिल था। लेकिन उस समय उन्होंने कैथोड-रे ट्यूब के उपयोग का उपयोग नहीं किया था जो आधुनिक टेलीविजन का आधार है। फिर सन 1929 में रूस के Vladimir Zvorkin ने कैनेस्कोप नामक कैथोड ट्यूब को सिद्ध किया, और आविष्कार ने बाद में कैथोड रे ट्यूब तकनीक विकसित की।

उसके बाद लोगों के बीच Colour TV की जरुरत को पूरा करने के लिए सन 1938 में जर्मन इंजीनियर Werner Flechsig ने Shadow Mask Colour TV का निर्माण किया। इसके बाद 1939 तक और भी लोगों ने अलग अलग तकनीक का प्रयोग किया और टेलीविज़न का आविष्कार किया। लेकिन इस समय तक सार्वजनिक रूप से टेलीविज़न की बिक्री नहीं कि गई थी। इस प्रकार 1939 में सबसे पहली टीवी का Manufacturing DuMont Company द्वारा शुरू किया गया। उसके बाद सन 1946 तक, DuMont Company का नेटवर्क दुनिया का पहला टीवी नेटवर्क बन गया था। इस नेटवर्क की स्थापना मूल रूप से TV Set बेचने के लिए किया गया था।

इस सीबीए वैज्ञानिक ने पीटर गोलमार्क के निर्देशों पर जॉन लॉगी बेयर्ड के सिद्धांत को अग्रेषित करते हुए पहला यांत्रिक रंगीन टेलीविजन बनाया। इसके बाद, 1948 में संयुक्त राज्य अमेरिका में लगभग दस लाख से अधिक टीवी बेचे गए थे।

आज का टेलीविज़न पहले जैसा नहीं रहा। दीन प्रतिदिन नई तकनीक का प्रयोग करके Television में बहुत Improvement हुआ। आज बाजार में तरह तरह के LCD, LED, OLED जैसे उच्च गुणवत्ता वाले TV उपलब्ध हैं।

टीवी के आविष्कारकों की संक्षिप्त जानकारी | Brief Information on the Inventor of Television

जे. एल. बेयर्ड को टेलीविजन के आविष्कारक के रूप में जाना जाता है। बेयर्ड का पहला डिज़ाइन एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण था जिसे नीपको डिस्क कहा जाता था, फिर 1884 में जर्मन वैज्ञानिक पॉल निप्पो द्वारा स्कैनिंग डिस्क विकसित किया गया था। तब बेयर्ड ने नीपको के विचार पर काम किया, उन्होंने संकेतों के साथ एक सिस्टम विकसित की जिसे वायरलेस विद्युत चुम्बकीय तरंगों के माध्यम से भेजा जा सकता है। विकास के चरण के दौरान, बेयर्ड को वित्तीय सहायता की कमी थी, क्योंकि अधिकांश निवेशकों ने बेयर्ड के विचार का समर्थन नहीं कर पाए।

35 वर्ष की आयु तक, बेयर्ड गरीबी में रहे। इस समय के दौरान बेयर्ड ने एक जूता विक्रेता के रूप में काम किया। जो की केवल भोजन, आश्रय और यांत्रिक उपकरणों के भुगतान के लिए पर्याप्त था। फिर 1923 में, बेयर्ड ने फिर से रेडियो पर, छवियों को प्रसारित करने के लिए मशीनों का अध्ययन करने की कोशिश शुरू की। फिर वह कुछ मीटर दूर एक रिसीवर के लिए वायरलेस ट्रांसमीटर पर एक मोटी छवि भेजने में कामयाब रहे। फिर बेयर्ड रातोंरात प्रसिद्ध हो गए, और जल्द ही निवेशकों ने उन्हें अधिक जटिल लक्ष्यों को महसूस करने के लिए पर्याप्त पूंजी दी। 1927 में, वह लंदन से ग्लासगो में टेलीविजन सिग्नल भेजने में कामयाब रहे। तब जॉन लोगी बेयर्ड (John Logie Baird) को पहले टेलीविजन के आविष्कारक के रूप में सूचीबद्ध किया गया था।

ये पोस्ट भी पढ़ें: Free Best WordPress Plugins

टेलीविजन के विकास का इतिहास

जोसेफ हेनरी और माइकल फैराडे द्वारा 1831 में खोज की गई विद्युत चुम्बकीय तरंगों के नियम, टेलीविजन के आविष्कार का ऐतिहासिक आधार है जहां से इलेक्ट्रॉनिक संचार के युग की शुरुआत होती है, और अब तक टेलीविजन का विकास तेजी से जारी है। यहां साल दर साल टेलीविज़न के विकाश का इतिहास दिया गया है।

1876 ​​में – सेलेनियम कैमरा का आविष्कार जॉर्ज कैरी द्वारा किया गया था, जिसका कार्य विद्युत  तरंगों को देखना था। यूजेन गोल्डस्टीन ने वैक्यूम ट्यूब में प्रकाश तरंगों के शॉट को कैथोड किरणें भी कहा।

1884 में जर्मन वैज्ञानिक Paul nipkow एक इलेक्ट्रिक टेलीस्कोप नामक एक धातु की पट्टी का उपयोग करके इलेक्ट्रॉनिक छवियां भेजने में कामयाब रहे।

1888 में एक ऑस्ट्रियाई वनस्पतिशास्त्री Freedrich renitezer ने लिक्विड क्रिस्टल की खोज की, जो बाद में एलसीडी बनाने के लिए कच्चा माल बन गया।

1897 में पहले कैथोड रे ट्यूब (CRT) का आविष्कार जर्मन वैज्ञानिक Karl Ferdinand Braun ने किया था। उन्होंने एक चमकदार स्क्रीन के साथ कैथोड रे ट्यूब बनाया।

1900 में Konstantin Perskile ने फ्रांस में आयोजित प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी में बिजली की पहली International Congress में टेलीविजन प्रस्तुत किया।

1907 में Campbell Swinton ने चित्र भेजने के लिए कैथोड किरणों का उपयोग किया।

1925 में John Logie Baird ने पहला मैकेनिकल टेलीविज़न का आविष्कार किया।

-- विज्ञापन --

1927 में Utah, USA के वैज्ञानिक Philo t farnsworth ने 21 साल की उम्र में पहला आधुनिक टेलीविजन विकसित किया था, और Image Dissection Tube पर उनके विचार टेलीविजन के काम का आधार थे।

1929 में रूस के Vladimir Zvorkin ने Kanescope नामक कैथोड ट्यूब को सिद्ध किया, और आविष्कार ने बाद में Cathode Ray Tube तकनीक विकसित की।

1938 में – जर्मन इंजीनियर Werner Flechsig ने Shadow Mask Colour TV का निर्माण किया।

1940 में –  Peter goldmark ने Ritating Wheel के आधार पर Field sequential color technology का निर्माण किया और रंगीन टेलीविज़न बनाया। यह Rotating Wheel तीन रंग उत्सर्जित करते थे, Red, Blue, Green.

1958 में Dr. Glen Brown द्वारा एलसीडी पर एक वैज्ञानिक पत्र पहली बार एक प्रदर्शन के रूप में प्रकाशित हुआ।

1964 में Donald bitzer और Jean Slotto द्वारा पहला Single Cell Prototype Plasma Television Display बनाया गया।

1967 में James ferragson ने Twisted nematic technique का आविष्कार किया, और एक अधिक व्यावहारिक एलसीडी स्क्रीन का निर्माण किया।

1968 में एलसीडी स्क्रीन को पहली बार Root cause analysis द्वारा पेश किया गया था।

1975 में  University of Illinois के Larry weber ने रंगीन प्लाज्मा स्क्रीन डिजाइन करना शुरू किया।

1979 में  कोडक कंपनी के वैज्ञानिकों ने एक नए प्रकार के Organic Light Emitting Diode (OLED) डिस्प्ले बनाने में सफलता प्राप्त की। तब से, उन्होंने OLED टेलीविज़न के प्रकार विकसित करना जारी रखा है। इस बीच, Walter Spear और Peter le comber ने हल्के पतले Film transfer से Lcd color प्रदर्शित किए।

1987 में CODEC ने पहले डिस्प्ले डिवाइस के रूप में OLED आविष्कार का पेटेंट कराया।

1995 में Larry weber ने दशकों तक शोध किया और आखिरकार उनकी Plasma screen project पूरी हो गई, फिर Weber ने Matsushita Company से 26 मिलियन अमेरिकी डॉलर के निवेश के साथ शोध किया।

-- विज्ञापन --

यह केवल 2000 के दशक तक का इतिहास था। उसके बाद से तरह तरह की Technology का प्रयोग करके  LCD, LED, OLED, Plasma और CRT Panel का निर्माण किया गया है।

ये पोस्ट भी पढ़ें: Generations of computer in Hindi (कंप्यूटर की पीढ़ियाँ)

Television के प्रकार (Types of TV in Hindi)

तकनीक के आधार पर आज Market में 5 प्रकार के टीवी उपलब्ध हैं। तो चलिए सभी के बारे में जानते हैं।

Television के प्रकार

-- विज्ञापन --

1. CRT TV

CRT का पूर्ण रूप Cathode Ray Tube होता है। उदाहरण के लिए हम पुराने जमाने की भारी TV को देख सकते हैं। अभी भी कई घरों में CRT TV देखने को मिलता है। इस प्रकार के TV के Box में एक स्क्रीन और एक Projector Gun होता है। Screen पर इस ‘Projector Gun’ के माध्यम से इलेक्ट्रॉनों को निकालकर एक छवि बनाई जाती है।

2. LCD TV

LCD का पूर्ण रूप Liquid Crystal Display होता है। यह एक पतली Display होती है जिसका इस्तेमाल Laptop, Desktop और TV में किया जाता है। LCD TV का Panel Liquid Crystal से भरा होता है। LCD TV खुद प्रकाश उत्सर्जित नहीं करते बल्कि उसपर Image बनाने के लिए Light Source की आवश्यकता होता है।

3. LED TV

LED का पूर्ण रुप Light Emitting Diode होता है। यह कोई नया Format नहीं बल्कि यह LCD TV का ही Updated Version है। LED TV में भी वही Technology का प्रयोग किया जाता है जो LCD TV में प्रयोग किया जाता है। लेकिन यहां पर अंतर सिर्फ इतना है कि LED को प्रकाशवान करने के लिए LCD के जैसा Fluorescent Bulb की आवश्यकता नहीं होती बल्कि LED को Light Emitting Diode के एक Series से जलाया जाता है।

4. Plasma TV

प्लाज्मा स्क्रीन कांच की 2 चादरों से बनी होती हैं, जिसमें परतों के बीच गैसों का मिश्रण होता है। इस प्रकार की टीवी को बनाते समय इसमें Gas को Plasma के रुप में Inject और Seal किया जाता है। इसलिए इसे Plasma TV कहा गया।

जब इसमें Electricity प्रवाहित किया जाता है, तो गैसें प्रतिक्रिया करती हैं और स्क्रीन के पार पिक्सेल में रोशनी पैदा करती हैं।

5. OLED TV

OLED का पूर्ण रुप organic light-emitting diode होता है। इन्हें प्रकासवान करने के लिए किसी बाहरी प्रकाश स्रोत की आवश्यकता नहीं होती। यह Screen बहुत पतली होती है और Flexible भी हो सकती है। इस टीवी का Brightness contrast बहुत बेहतर होता है।

हालांकि अभी यह टीवी थोड़ा महंगा है लेकिन नई तकनीक के विकास से इसे भी सस्ता होने की उम्मीद है। टीवी के आलावा इस तकनीक का इस्तेमाल Computer Monitor, Laptop और मोबाइल की स्क्रीन पर भी किया जाता है।

ये पोस्ट भी पढ़ें:- What is Python in Hindi

Interesting Facts related to Television

  • John Logie Baird ने पहली टेलीविजन का अविष्कार किया और उसके माध्यम से तस्वीर प्रसारित की।
  • -- विज्ञापन --
  • High Definition TV की शुरूआत वास्तव में 1936 में हुआ था।
  • 1982 में Sony ने Watchman fd-210 नाम का Pocket Size TV बनाया जिसमें5 Cm का Gray-scale Display था।
  • भारत में Television की शुरुआत दिल्ली में 15 September 1959 को हुई थी।
  • भारत में सर्वप्रथम टेलीविज़न का प्रयोग कलकत्ता के Neogi परिवार में किया गया था।
  • औसतन व्यक्ति अपने जीवन के लगभग 10 साल टीवी देखने में बिताता है।
  • हालाँकि टेलीविजन के आविष्कारक जन्म से एक ब्रिटिश थे, लेकिन ब्रिटिश लोग टीवी देखने के उत्सुक नहीं होते। ब्रिटेन में औसत लोग दिन में सिर्फ चार घंटे टीवी देखते हैं।
  • एक गणना से यह पता चला है कि 5-14 वर्ष की आयु के बीच एक अमेरिकी बच्चा टेलीविजन पर 13,000 Murders seen देखता है।
  • आज के समय लोग बड़ी Size का TV पसंद करते है। लोगों कि इसी Demand को पूरा करने के लिए 2012 में Panasonic ने पहली बार 157 इंच का टीवी बनाया जिसकी कीमत लगभग 6 लाख Euro यानी लगभग 5,44,48,615.80 रुपए थी।
  • Iceland में 1987 तक एक भी TV नहीं थे।

ये पोस्ट भी पढ़ें: Operating System Kya Hai- What is Operating System in Hindi?

-- विज्ञापन --

अंतिम शब्द,

तो दोस्तों आज इस पोस्ट में मैंने बताया कि टेलीविज़न का आविष्कार किसने और कब किया। आपको यह पोस्ट कैसी लगी हमें Comment करके बताएं। यदि आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे Social Media पर जरूर Share करें। यदि आपको TV ke Avishkar से जुड़ा कोई सवाल पूछना है या किसी भी चीज के अविष्कार से जुड़ा आपके पास कोई सवाल है तो आप हमें Comment करके बता सकते हैं।

-- विज्ञापन --
Share on:

Leave a Comment