X
 

12वीं के बाद क्या करें? | 12th Ke Baad Kya Kre

12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kre): अक्सर 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद विद्यार्थियों और उनके परिजनों को चिंता रहती है कि उनके बच्चों का भविष्य किस प्रकार से निर्धारित किया जाए। उन्हें 12वीं के बाद आगे की पढ़ाई लिखाई करवाने के लिए बहुत ही सोच समझकर कदम उठाना पड़ता है।

यहां तक कि विद्यार्थी भी खुद तय नहीं कर पाते हैं कि उनका अगला लक्ष्य क्या होगा, उनके जीवन का लक्ष्य क्या होगा। फिर भी अगर कई विद्यार्थी अपने जीवन में लक्ष्य बना लेते हैं, तो 12वीं के बाद भी उन्हें उन लक्ष्यों को पूरा करने के लिए सही रास्ता नहीं मिलता है तथा भ्रमित रहते हैं कि उन्हें किस प्रकार की पढ़ाई करनी चाहिए। जिसकी बदौलत उन्हें उनके लक्ष्य की प्राप्ति हो सकती है।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आपके पास कौन-कौन से विकल्प रहते हैं। इन विकल्पों के आधार पर आप अपने पसंदीदा नौकरी अथवा बिजनेस या यूं कहें कि आपने जो टारगेट बना रखा है, उस टारगेट को पूरा करने के लिए पढ़ाई करने में आसानी हो सकती है। 12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kre) आर्टिकल के माध्यम से आपको आपके लक्ष्य को पूरा करने का रास्ता मिलेगा।

12th Ke Baad Kya Kre

12वीं के बाद क्या करें? | 12th Ke Baad Kya Kre

12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kre) इस आर्टिकल में हम आपको के बारे में जानते है, तो चलिए जानते हैं। 12वीं कक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद विद्यार्थियों के लिए आगे के लिए कौन कौन से रास्ते खुले हुए हैं? 12वीं कक्षा को उत्तीर्ण करने के बाद (12th Ke Baad Kya Kre) आपको किसी भी प्रकार से भ्रमित नहीं होना है। अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए उचित विषय अथवा डिग्री का चयन करें, तथा अपने लक्ष्य की ओर आगे बढ़ जाएं। 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आपके लिए बहुत सारी विकल्प मौजूद होते हैं।

  • जिनमें से बैचलर ऑफ आर्ट्स (Bachelor of arts) का नाम सबसे ऊपर आता है।
  • इसके बाद बैचलर ऑफ आर्ट्स एंड बैचलर ऑफ लेजिसलेटिव लो (bachelor of arts and bachelor of legislative law)
  • बैचलर ऑफ कंप्यूटर एजुकेशन (bachelor of computer education)
  • बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स (bachelor of fine arts)
  • बैचलर इन फैशन डिजाइनिंग (bachelor in fashion designing)
  • बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट (bachelor of Hotel management)
  • बैचलर ऑफ एलिमेंट्री एजुकेशन (bachelor of elementary education)
  • बैचलर ऑफ सोशल वर्क (bachelor of social work)
  • बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन (bachelor of journalism and mass communication)

इन सब विकल्पों के अलावा आप बहुत सारे अलग से कोर्स कर सकते हैं। ऐसे इंग्लिश स्पीकिंग कोर्स, किसी खास विषय में डिप्लोमा का कोर्स, कंप्यूटर कोर्स, प्रोफेशनल कोर्स जैसे बहुत सारे विकल्प मौजूद है।

ऊपर दी गई डिग्री में से किसी एक डिग्री को चुनें तो बैचलर इन जर्नलिज्म एंड मैस कम्युनिकेशन (bachelor in journalism and mass communication) की डिग्री को मैं सबसे पहले स्थान पर रखना चाहूंगा। क्योंकि यह बहुत शानदार फील्ड है। मीडिया या फिर पत्रकारिता की इंडस्ट्री में जिन विद्यार्थियों का मन लगता है या फिर जो विद्यार्थी अपने दिमाग से क्रिएटिव होते हैं। जो फिल्म मेकिंग और उसमें फोटोग्राफी जैसी चीजों में इंटरेस्ट रखते हैं।

उनके लिए जर्नलिस्ट एंड मास कम्युनिकेशन कोर्स बहुत ही शानदार साबित हो सकता है और इस कोर्स को करने में ज्यादा मेहनत भी नहीं लगती है। यह कोर्स करने के लिए कई शहरों में विकल्प मौजूद होते हैं। जो सरकारी और प्राइवेट कॉलेज दोनों ही तरीके से कर सकते हैं।

बैचलर इन फैशन डिजाइनिंग (Bachelor In Fashion Designing)

ऐसे लोग जो आर्ट एंड क्राफ्ट या फिर डिजाइनिंग जैसे क्षेत्रों में अपनी रुचि रखते हैं, उन विद्यार्थियों के लिए बैचलर इन फैशन डिजाइनिंग का कोर्स करने की सलाह दूंगा। यह कोर्स काफी क्षेत्रों में पॉपुलर हो चुका है। आज के समय में दिनों दिन मांग भी बढ़ती जा रही है।

भारत में नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ फैशन टेक्नोलॉजी (National institute of fashion technology) नाम की संस्था इसका कोर्स काफी बड़े लेवल पर करवा रही है। इस कोर्स को करने के लिए आपको 12वीं से आर्ट्स में उत्तीर्ण करना होता है। अगर सरकारी कॉलेज में एडमिशन लेना चाहते हैं तो इसके लिए काफी अच्छे अंको से उत्तीर्ण होना जरूरी है।

बैचलर इन फाइन आर्ट्स (Bachelor In Fine Arts)

बैचलर इन फाइन आर्ट्स मूर्तिकला चित्रकारीता या फिर फोटोग्राफी जैसे विशेष विषयों को मिलाकर करवाई जाती है इनमें से आप किसी एक विषय को चयन करके या डिग्री प्राप्त कर सकते हैं। आप उसी विषय का चयन करें जिस विषय में आप बचपन से रुचि रखते हैं या फिर अपना भविष्य बनाना चाहते हैं।

क्योंकि इस फील्ड में आने के बाद भी सफल भविष्य की बहुत संभावनाएं मौजूद होती है। क्रेएटिव माइंडेड विद्यार्थियों के लिए यह कोर्स कई जगह सफल साबित हो सकता है। क्योंकि इस कोर्स की भी दुनिया भर में अलग-अलग स्तर पर डिमांड बढ़ती जा रही है।

बैचलर ऑफ होटल मैनेजमेंट (Bachelor of Hotel Management)


हम देख पा रहे हैं कि हमारे आसपास के क्षेत्रों में अनेकों बड़ी बड़ी होटल मौजूद होती है तथा उन होटलों में काम करने वाले कर्मचारी भी सूट बूट के साथ बड़ा ठाट ढाते हैं। होटल मैनेजमेंट का कोर्स भी आज बहुत तरक्की दे रहा है। जिन विद्यार्थियों ने अपना लक्ष्य होटल मैनेजमेंट करने का बना रखा है।

वह विद्यार्थी होटल मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं। इसके लिए विशेष प्रकार के कॉलेज और संस्थान पंजीकृत होते हैं। जो सरकारी अथवा प्राइवेट दोनों ही हो सकते हैं। ऐसे कॉलेज में एडमिशन लेने के बाद आपको होटल मैनेजमेंट में ही विषय चुनने को मौका मिलता है।

जिसमें आप को मौका दिया जाता है, कि आप किस फील्ड में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं। अगर आपको खाना बनाने में रुचि है, तो आप शैफ बनने का सपना पूरा कर सकते हैं। अगर आप मैनेजर बनना चाहते हैं। तो मैनेजमेंट का कोर्स करके आप मैनेजमेंट कर सकते हैं या फिर बेकरी का कोर्स करके आप वहां से सर्टिफिकेट प्राप्त कर खुद की बेकरी की दुकान लगा सकते हैं। इन सबके अलावा भी बहुत सारे ऑप्शंस होटल मैनेजमेंट कोर्स के अंदर मौजूद होते हैं। जो आपके सुनहरे भविष्य को बनाने में बहुत ही उपयोगी साबित हो सकते हैं।

बी.ए. एल. एल. बी. (B.A. L.L.B.)

12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kre) इस सूची में BA LLB का नाम शामिल है।12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आगे के कोर्स को लेकर आप ज्यादा असमंजस में नहीं पड़ें। 12वीं के बाद LAW भी कर सकते हैं। वकालत के क्षेत्र में जाकर आप अपना शानदार भविष्य बना सकते हैं।

एलएलबी का कोर्स करने के लिए 3 साल के लिए बीएएलएलबी का कोर्स किया जाता है या फिर 5 साल का इंटीग्रेटेड एलएलबी कोर्स भी किया जा सकता है। ध्यान रखने वाली बात यह है कि LAW करने के साथ केवल वकील ही नहीं बल्कि और भी कई क्षेत्र हैं, जहां पर आप शानदार नौकरी पा सकते हैं जिसमें सरकारी तथा प्राइवेट नौकरी दोनों ही शामिल हैं।

इन सब के बाद आते हैं। सोशल कोर्सेज अगर आप अपने फ्री समय का सदुपयोग करना चाहते हैं, तो आप इंग्लिश स्पोकन कोर्स भी कर सकते हैं। मान लीजिए आपकी इंग्लिश बोलने में काफी कमजोर है और आप सीखने में रुचि रखते हैं। तो आप यह कोर्स आसानी से कर पाएंगे। आज हमारे आस पास के क्षेत्रों में हर जगह इंग्लिश स्पोकन कोर्स के निजी संस्थान आपको मिल जाएंगे जो आपको एक छोटी सी रकम लेकर या यूं कहें तो एक नियमित फीस लेकर आपको इंग्लिश स्पोकन कोर्स करवा सकते हैं। जिसके दौरान आप एक फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने वाले सज्जन बन जाएंगे।

हालांकि इन कोर्सों की कोई गारंटी नहीं है कि 100% यह कोर्स कराने वाले संस्थान आपको अंग्रेजी सिखा पाएंगे, इन कोर्सों के साथ-साथ आपका भी इन संस्थानों को सहयोग देना है। आप हर जगह इंग्लिश स्पोकन कर अपने प्रयास जारी रखकर कोकन को काफी हद तक सुधार सकते हैं। इसके लिए आपको नियमित प्रैक्टिस करनी पड़ेगी।

Bechlor Of Technology (बैचलर ऑफ Tech)

अब आता है कंप्यूटर बेसिक शिक्षा, कंप्यूटर के बारे में बेसिक कोर्स करने के लिए हमारे आसपास के क्षेत्र में बहुत सारे संस्थान मिल जाएंगे। जो आपको ऐसे कोर्स करवाने के लिए एक फीस लेकर सर्टिफिकेट प्रदान करते हैं। आप अपने खाली समय का सदुपयोग करने के लिए ऐसे संस्थानों में एडमिशन ले कर समय-समय पर कंप्यूटर की क्लास लेने जा सकते हैं, क्योंकि हम सबको पता है कि आज का समय डिजिटल हो चुका है।

हर कोई व्यक्ति अपने काम को सरल तरीके से करने के लिए ऑनलाइन काम कर रहा है या फिर घर बैठे कंप्यूटर पर काम कर रहा है। अगर ऐसा भी नहीं है तो हम देख सकते हैं, हमारे आसपास के हर क्षेत्रों में प्रत्येक काम कंप्यूटर के जरिए ही हो रहा है। इसलिए हमारे लिए कंप्यूटर का बेसिक कोर्स करना तो बहुत ही जरूरी हो गया है। अगर हमें कंप्यूटर का बेसिक नॉलेज नहीं है, तो भी हम एक तरीके से अनपढ़ ही रह जाएंगे। जिस व्यक्ति को कंप्यूटर का बेसिक ज्ञान होता है, वह अपने जीवन यापन करने के लिए कोई ना कोई छोटा मोटा जुगाड़ कर ही लेता है।

इसके साथ-साथ जब आप कंप्यूटर का कोर्स कर रहे होते हैं, तो उसके साथ-साथ कंप्यूटर टाइपिंग का कोर्स भी कर सकते हैं। जिसके दौरान आपके कंप्यूटर के कीबोर्ड पर लिखने की क्षमता तेज हो जाएगी और आप बहुत ही कम समय में बहुत ज्यादा लिख पाने में सफल होंगे।

12th के बाद क्या करे?

यह भी पढ़े:

FAQ’s Related To What Are Doing After 12th Class

B.A. L.L.B. का पूरा नाम बताइए

B.A. L.L.B. का पूरा नाम बैचलर ऑफ आर्ट्स एंड बैचलर ऑफ लेजिसलेटिव लो होता है।

बैचलर ऑफ आर्ट्स (Bachelor of arts) की डिग्री के लिए कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने से पहले कौन सी कक्षा उत्तीर्ण करना जरूरी होता है?

बैचलर ऑफ आर्ट्स (bachelor of arts) की डिग्री एलएस कॉलेज में एडमिशन प्राप्त करने से पहले 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करना जरूरी होता है।

अगर आप फैशन डिजाइनर बनना चाहते हैं, तो आपके लिए कौन सा कोर्स करना सफल साबित होगा?

अगर हमें फैशन डिजाइनर बनना है, तो इसके लिए बैचलर इन फैशन डिजाइनिंग (bachelor in fashion designing) का कोर्स करना होगा।

इंग्लिश स्पोकन कोर्स करने के लिए क्या करना चाहिए?

12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद इंग्लिश स्पोकन कोर्स करने के लिए आप नजदीकी स्पोकन कोर्स करवाने वाली संस्थान पर संपर्क कर सकते हैं तथा यह संस्थान ऐसा होना चाहिए जिससे शिक्षा विभाग द्वारा मान्यता मिली हो।

निष्कर्ष

आज के12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kre) आर्टिकल के माध्यम में हमने जाना की 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद हमारे पास किन-किन क्षेत्रों में विकल्प मौजूद रहते हैं। अथवा हम किन-किन प्रकार की डिग्रियां या कोर्स को कर सकते हैं। बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप अपने भविष्य का निर्णय खुद कर सकते हैं। आप इतने समझदार हो चुके होते हैं, कि आपको भविष्य में किस दिशा की तरफ जाना है तथा किस प्रकार की डिग्रियों को हासिल करके अपने मुकाम तक पहुंचना होता है।

हमारा 12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kre) वाला आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर करें, इस आर्टिकल संबंधित आपके पास भी अगर कोई विशेष जानकारी हो या फिर आर्टिकल संबंधी कोई शिकायत दर्ज करवानी हो तो हमारे कमेंट सेक्शन में जाकर कमेंट करके हमसे संपर्क कर सकते हैं। इसी प्रकार के ज्ञानवर्धक आर्टिकल पढ़ने के लिए हमारे साथ जुड़े रहें और हमारे अन्य आर्टिकल भी पढ़ें।

Share on:
Author: Editorial Staff
We share knowledge about science, technology, and internet-related topics. Get the most recent information on trending topics by following us on Facebook, Twitter, Instagram, and Telegram.

Leave a Comment